गोडावण पक्षी

गोडावण पक्षी के बारे में रौचक जानकारी

तो दोस्तों इस आर्टिकल के माध्यम से आज हम बात करने वाले हे राजस्थान के राज्य पक्षी गोडावण के बारे में जिनका अंग्रेजी नाम Great Indian bustard हे। गोडावण पक्षी अपने दूसरे नामो जैसे की सोहन चिड़िया , हुकना आदि नामो से भी जाना जाता हे तो चलो दोस्तों गोडावण पक्षी के बारे में और भी अधिक जानकारी को हम देख लेते हे। गोडावण पक्षी की जानकारी 

Great Indian Bustard Bird In Hindi

1 . तो दोस्तों सबसे पहले हम बात करने वाले हे की गोडावण पक्षी का वैज्ञानिक नाम क्या हे ? तो इस पक्षी का वैज्ञानिक नाम Ardeotis nigriceps हे। 

2 . ये पक्षी मुख्यत्वे भारत के राजस्थान और पाकिस्तान में पाए जाने वाला एक बड़े आकार का पक्षी हे। 

3 . क्या आपको पता हे की गोडावण पक्षी उड़ने वाले पक्षियों में से अधिक वजनी पक्षी हे। 

4 . गोडावण राजस्थान का राज्य पक्षी हे। 

5 . अक्शर गोडावण पक्षी शुष्क घास के मैदानों में पाए जाते हे। 

6 . ये एक शर्मीला पक्षी हे जो ज़्यादातर अकेले में ही रहना पसंद करता हे। 

7 . गोडावण की ऊंचाई कितनी होती हे ? तो इस पक्षी की ऊंचाई करीब एक मीटर तक होती हे जबकि इस पक्षी की लम्बाई करीब 110 से लेकर 120 सेमि तक होती हे।  

8 . ये पक्षी अपने शरीर के आकार और सिर पर काले किरीट से पहचाना जाता हे। 

9 . इस पक्षी की आवाज़ को आप 500 मीटर की दुरी तक सुन सकते हे। 

10 . उड़ने के साथ साथ गोडावण पक्षी तेज़ गति से दौड़ने और छलांग लगाने में भी माहिर होते हे। 

10 Lines About Great Indian Bustard In Hindi

11 . 1981 में गोडावण पक्षी को राजस्थान का राज्य पक्षी के रूप में घोषित किया गया था। 

12 . ये एक सर्वाहारी पक्षी हे जिनका मुख्य खोराक गेहूँ , ज्वार , बाजरा , छिपकलियाँ , सांप और बीज , बेर होता हे। 

13 . गोडावण पक्षी की गर्दन और दो टांगे जो लम्बी होती हे। 

14 . गोडावण पक्षी का वज़न कितना होता हे ? तो इस पक्षी का वज़न करीब 8 किलोग्राम से लेकर 15 किलोग्राम तक भी होता हे। 

15 . मादा की तुलना नर गोडावण सहेज बड़ा होता हे। 

16 . वर्तमान समय में गोडावण पक्षी ख़तरे में हे और इस पक्षी की संख्या बहुत ही कम बची हे यानिकि गोडावण एक संकटग्रस्त पक्षी हे। 

17 . गोडावण पक्षी का रंग भूरा और उनके पंख पर काले या स्लेटी निशान होते हे। 

18 . ये पक्षी शुष्क परिस्थितियों में अनुकूल होता हे इसलिए ये पक्षी पानी के बिना भी कई दिनों तक रह सकता हे। 

19 . ये पक्षी अपना घोंसला ज़मीन पर ही बनाते हे और उसमें मादा करीब एक से चार अंडे देती हे। अंडो को सेहने का काम और पालन पोषण मादा ही करती हे। 

20 . ज़्यादातर ये पक्षी अकेले में ही रहता हे लेकिन कभी कभी झुण्ड में दिखाई देते हे। 

21 . इस पक्षी को राष्ट्रीय मरु उद्यान में सुरक्षित किया गया हे। 

22 . इस पक्षी के कुछ प्राकृतिक दुश्मन भी हे जैसे , कुत्ते , लोमड़ी और बड़े शिकारी पक्षी अंडे को भी खा जाते हे। 

23 . अगर हम गोडावण पक्षी के जीवनकाल के बारे में बात करे तो इस पक्षी का जीवनकाल करीब 12 साल से 15 साल तक का होता हे। 

तो दोस्तों अगर आपको गोडावण पक्षी की जानकारी पसंद हे तो आप इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *