तितली – Butterflies Information In Hindi

तो दोस्तों इस आर्टिकल के माध्यम से आज हम बात करने वाले हे तितली के बारे में जो एक सुन्दर और बेहद ही आकर्षित किट हे यानिकि तितली अपनी सुंदरता और आकर्षक रंगो की वजह से सबको अपनी तरफ आकर्षित करती हे तो चलो दोस्तों तितली के बारे में और भी अधिक जानकारी और उसके रोचक तथ्य हम जान लेते हे।

तितली - Butterflies Information In Hindi

तितली के बारे में जानकारी – Butterflies In Hindi

तो दोस्तों सबसे पहले हम बात करने वाले हे की तितली का वैज्ञानिक नाम क्या हे ? तो तितली का वैज्ञानिक नाम Rhopalocera हे तितली एक किट वर्ग में आने वाला एक जिव हे जो अक्शर अंटार्कटिका को छोड़कर हर जगह पर पाया जाता हे।

तितली की करीब 20,000 प्रजातियां पाई जाती हे जबकि भारत में करीब 1500 प्रजातियां पाई जाती हे। तितलियों का आकार करीब आधा इंच से लेकर बार इंच तक हो सकता हे ये उनकी प्रजातियां पर निर्भय होता हे। 

तितली का मुख्य खोराक फूलो का रसपान होता हे यानिकि ये किट अक्शर एक फूल से दूसरे फूल पर घूमती रहती हे और रसपान करती हे तितली फूलो का रसपान उसके मुँह घडी के स्पिंग की तरह ‘ प्रोवोसिस ‘ नामक लम्बी सूँड़नुमा जीभ होती हे उससे वो फूलो का रसपान करती हे।

तितली के शरीर मुख्य तीन भाग होते हे जिसमें सिर , वक्ष और उदर शामिल हे जबकि तितली के पास दो जोड़ी पंख और तीन जोड़ी संधियुक्त पैर होते हे।

आपने तितली के पर और पैरो में हल्का रूआ और धूल जैसे कण होते हे जिसकी वजह से अगर आप तितली को हाथ से पकड़ते हे तो वही धूल जैसे कण आपको हाथो पर लग जाते हे। 

तितली अपने पुरे जीवनकाल में चार चरणों से गुजरती हे जिसमे अंडा , लार्वा , प्यूपा और वयस्क होता हे।

तितली एकलिंगी प्राणी हे जिसमें मादा अपने अंडे पौधे की पत्तिया के निचली सतर पर या ऊपर की और देती हे। जिसमें से छोटा सा किट निकलता हे जिसे कैटरपिलर (लार्वा ) कहा जाता हे जो शरुआत में पत्तिया खाकर बड़ा होता हे और उसके चारो और खोल बन जाता हे जिसे प्यूपा कहा जाता हे और बाद में प्यूपा से छोटी तितली बहार निकलती हे।

तितली का मुख्य भोजन पत्तिया फूल और फूलो का रसपान होता हे।

तितली का जीवनकाल बेहद ही कम होता हे यानिकि तितली का जीवनकाल करीब एक महीने का होता हे जबकि कुछ तितली 12 महीने तक भी जीवित रह सकती हे ये उनकी प्रजातिया पर निर्भय होता हे। 

तितली के रोचक तथ्य – Butterflies Facts In Hindi

1 . इस किट का दिमाग बहुत ही तेज होता हे यानिकि तितली के पास सूंघने की , स्वाद की और देखने की अद्भुत क्षमता होती हे। 

2 . क्या आपको पता हे की दुनिया में सबसे तेज़ उड़ने वाली तितली मोनार्च हे जो एक घंटे में करीब 17 मिल की दुरी तय करती हे।

3 . दुनिया की सबसे बड़ी तितली जायंट बर्डविंग हे जो सोलमन आइलैंड्स पर पाई जाती हे जिनके पंखो का फैलाव 12 इंच तक होता हे। 

4 . तितली के पास स्वाद चखने वाले सेंसर पैरों में पाए जाते हे। 

5 . एक अनुमान से तितली को मौसम का अंदाजा एक दिन पहले लगता हे।

6 . तितली की आंखे में करीब  6000 लेंस पाए जाते हे जिसकी वजह से वो पराबैगनी किरणों को भी देख सकते हे। 

7 . तितली का खून ठंडा होता हे।

8 . तितली की कुछ प्रजातियां ऐसी भी होती हे की वो केवल एक ही पौधे पर अपने अंडे देती हे। 

9 . सबसे बड़ी तितली 12 इंच जबकि सबसे छोटी तितली आधे इंच की हे। 

10 . स्किपर तितली इतनी तेज़ उड़ती हे की वो घोड़े को भी पीछे छोड़ सकती हे।

11. कोस्टा रिका में तितली की करीब 1300 से भी अधिक प्रजातियां पाई जाती हे।

12 . तितली अपने अंडे समूह में देते हे जिनका रंग पीला , नारंगी और हरा होता हे। 

13 . भारत में पाई जाने वाली सबसे बड़ी तितली गोल्डन बर्डविंग हे जबकि सबसे छोटी तितली ग्रास ज्वेल हे। 

ये भी पढ़े। 

 Honey Bee Information In Hindi – मधुमक्खी

जुगनू – Firefly Information In Hindi

तितली के बारे में सबंधित सवाल

तितली के कितने पैर होते हे?

तितली के छह पैर होते हे। 

तितली कितने दिन जीती हे?

आमतौर पर तितली का जीवनचक्र 2 से 4 हप्ते का होता हे लेकिन तितली की कुछ प्रजाति 12 महीने तक भी जीवित रहती हे 

तितली कैसे पैदा होती हे?

मादा तितली पौधे की पत्तिया के सतह पर या निचले हिस्से में अंडे देती हे जिसमें छोटा सा कीड़ा निकलता हे जिसे कैटरपिलर ( लार्वा ) कहा जाता हे जो शरुआत में पत्तिया को खाकर बड़ा होता हे और उसके चारो और खोल बन जाता हे जिसे प्युपा कहा जाता हे और बाद में प्यूपा से छोटी तितली पैदा होती हे।

तितली का वैज्ञानिक नाम क्या हे?

तितली का वैज्ञानिक नाम Rhopalocera हे। 

तितलियों के बारे में सबसे चिंता जनक बात ये की तितली की जनसँख्या या प्रजाति में पिछले 40 सालो में करीब 40% गिरावट हुई हे।

अगर आपको तितली की जानकारी पसंद हे आप इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे। 

धन्यवाद। … 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *