indian rivers information in hindi

भारत की मुख्य नदियों के नाम और सामान्य जानकारी

तो दोस्तों इस आर्टिकल के माध्यम से आज हम बात करने वाले हे भारत की मुख्य नदियों के  नाम और उनकी सामान्य जानकारी के बारे में। आप सभी जानते हे की भारत एक कृषिप्रधान देश हे इसलिए इस देश में नदियों का बड़ा ही महत्त्व हे यहाँ पर नदियों से सिंचाई , बिजली और छोटे – छोटे व्यापर भी किया जाता हे तो चलो दोस्तों आज हम इनमे से मुख्य नदियों के बारे में जानकारी को हम जान लेते हे। ( भारत की नदियाँ )

Indian Rivers Name And Short Information

1 .  गंगा नदी – ये भारत की सबसे महत्त्व नदी हे जो करीब 2525 किलोमीटर तक का सफर तय करती हे।  गंगा नदी को पवित्र नदी और उनको माँ की भी उपमा दी गई हे। ये नदी हिमालय के गौमुख नामक स्थान पर गंगोत्री हिमनद से निकलती हे। 

2 . सतलुज नदी – ये उत्तर भारत की नदी हे जिनका प्राचीन नाम शतुर्दि था। इस नदी का उद्गम स्थान मानसरोवर निकट राक्षस ताल से हे। पंजाब की समुद्री के पीछे इस नदी का ही योगदान हे। 

3 . सिंधु नदी – सिंधु नदी एशिया की सबसे लंबी नदियों में से एक हे। इस नदी का उद्गम स्थान तिब्बत मानसरोवर के निकट सिन – का – बाब नामक जलधारा को माना जाता हे। इस नदी की लंबाई करीब 3180 किलोमीटर हे। क्या आप जानते हे की सिंधु नदी पाकिस्तान की सबसे लंबी और राष्ट्रीय नदी भी हे। 

4 . रावी नदी – इस नदी का प्राचीन नाम परुष्णी था। ये उत्तर भारत में बहनेवाली नदी हे और इस नदी को लहौर के नाम से भी जाना जाता हे। ये नदी पाकिस्तान में सिंधु नदी को मिलने के बाद अरब सागर में समां जाति हे।

5 . झेलम नदी – भारत के उत्तर से बहने वाली नदी हे जिनका वास्तविक नाम वितस्ता झेलम हे। इस नदी का उद्गम स्थान वेरीनाग नामी नगर हे जबकि इस नदी की लम्बाई करीब 725 किलोमीटर हे। 

6 . व्यास नदी – ये पंजाब की मुख्य पांच नदीयो में से एक नदी हे जिनकी लम्बाई करीब 470 किलोमीटर हे। इस नदी का प्राचीन नाम अर्जीकिया या विपाशा था। इस नदी का उद्गम स्थान कुल्लू व्यास कुंड हे।

7 . यमुना नदी – ये भारत में बहाने वाली और गंगा नदी की बहुत ही सहायक नदी हे जिनकी लम्बाई करीब 1376 किलोमीटर हे। दिल्ली और आग्रा इस नदी के निकटवर्ती शहर हे। इस नदी का ब्रज संस्कृति में बड़ा ही महत्त्व हे। इस नदी का उद्गम स्थान यमुनोत्री नामक जगह हे। 

8 . चम्बल नदी – चम्बल नदी यमुना नदी की सबसे सहायक नदी हे जिनका प्राचीन नाम चरमवती था जबकि इस नदी का उद्गम स्थान जानापाव पर्वत ” बाचु पाइट” महू से निकलती हे। राजस्थान की औधगिक नगरी कोटा चब्बल नदी के किनारे पर स्थिर हे। इस नदी की लम्बाई करीब 1024 किलोमीटर हे। 

9 . रामगंगा नदी – भारत की मुख्य नदियों और प्रवित्र नदियों में से एक हे। इस नदी का उदगम स्थान पौड़ी गढ़वाल जिले में से दूधातोली पहाड़ी की दक्षिणी ढ़लाओ में होता हे। क्या आप जानते हे की खनिज भारत का 1% सोना इस नदी की घाटी में से पाया जाता हे। 

10 . ब्रमपुत्र नदी– इस नदी का उद्गम स्थान हिमालय के उत्तर में तिब्बत के पुरंग जिले में स्थिर मानसरोवर झील के निकट में हे जो तिब्बत , भारत और बांग्लादेश से होकर गुजरती हे। इस नदी को बांग्लादेश में गुजर ने बाद उसे जमुना कहा जाता हे। इस नदी की लम्बाई करीब 3848 किलोमीटर हे। 

Indian Rivers Information In Hindi

11 . नर्मदा नदी – इस नदी को गुजरात राज्य और मध्य प्रदेश राज्यों की जीवा रेखा भी कहा जाता हे जिनकी लम्बाई करीब 1312 किलोमीटर हे। इस नदी को उसके दूसरे नाम रेवा के नाम से भी जाना जाता हे। इस नदी का उद्गम स्थान मध्यप्रदेश के सतपुड़ा पर्वतश्रेणियों के पूर्वी पर स्थिर अमरकंटक में नर्मदा कुंड से हुआ हे और ये नदी अरब सागर में मिल जाती हे। 

12. महानदी – इस नदी का प्राचीन नाम चित्रोत्पला था। इस नदी का उद्गम स्थान रामपुर के समीप धमतरी जिले में स्थिर सिहावा नामक पर्वत श्रेणिमें हुआ हे।

13 . शिप्रा नदी – ये नदी मध्यप्रदेश की मुख्य नदियों में से एक हे जिनके किनारे उज्जैन नगरी स्थिर हे। महान कवि कालिदास ने अपनी प्रसिद्र काव्यकृति “मेघदूत ” में इस नदी का वर्णन किया हे। इस नदी की लंबाई करीब 195 किलोमीटर हे। 

14 . माहि नदी – इस नदी की लंबाई करीब 583 किलोमीटर हे ये पश्चिम भारत की नदी हे जिनका उद्गम स्थान मध्यप्रदेश का धार जिल्ला की विध्याचल पर्वत श्रेणी से हुआ हे। माहि नदी भारत की एक मात्र ऐसी नदी हे जो की कर्क रेखा को दो बार काटती हे। ये भी भारत की प्रवित्र नदियों में से एक हे।

15 . साबरमती नदी – साबरमती गुजरात राज्य की प्रमुख नदी हे जिनका उदगम स्थान राजस्थान के उदयपुर जिले में अरवल्ली पर्वत मालाओ से होता हे और ये नदी अरब सागर में मिल जाती हे। इस नदी के किनारे अहमदाबाद और गांधीनगर स्थिर हे और इस नदी पर धरोई नामक बांध योजना हे। 

Indian Most Rivers In Hindi

indian rivers name list

16 . कृष्णा नदी – इस नदीं की लंबाई करीब 1400 किलोमीटर हे ये नदी पश्चिमी घाट के पर्वत महाबलेश्वर से निकलती हे और बंगाल की खाड़ी में मिल जाती हे। ये नदी मुख्य महाराष्ट्र , कर्णाटक और आंध्रप्रदेश में से गुजराती हे। 

17 . गोदावरी नदी – इस नदी को दक्षिण गंगोत्री भी कहा जाता हे जिनका उदगम स्थान पश्चिमी घाट में ” त्रयंबक “पहाड़ी से हुई हे औरवो बंगाली खाड़ी में जाकर मिल जाती हे। 

18 . कावेरी नदी – कावेरी नदी की लंबाई करीब 805 Km हे। ये नदी पश्चिमी घाट के पर्वत ब्रह्मगिरि से निकलती हे और बंगाल खाड़ी में मिल जाती हे। इस नदी के किनारे बसा हुआ तिरुचिशपल्ली जो हिन्दुओ का प्रसिद्र तीर्थ स्थान हे। 

19 . तुंगभद्रा नदी – दक्षिण भारत में बहने वाली एक प्रवित्र नदी हे जिनको रामायण में पंपा के नाम से भी जाना जाता हे जिनकी लंबाई करीब 531 Km हे।

20 . पेन्नार नदी – इस नदी को पिनाकिनी भी कहते हे। ये नदी मुख्य कर्णाटक और आंधप्रदेश में बहने वाली नदी हे जिनकी लंबाई करीब 597 KM हे और ये नदी बंगाल की खाड़ी में जाकर मिल जाती हे।

21 .पेरियार नदी – इस नदी की लंबाई 244 km हे। ये नदी केरल राज्य की सबसे बड़ी और लम्बी नदी हे ये नदी केरल के पश्चिमी घाट से निकलकर अरब सागर में मिल जाती हे। इस नदी पर मुल्लापेरियार नामक बाँध हे। पेरियार नदी का उदगम स्थान पश्चिम घाट की शिवागीरी की पहाड़ियों को माना जाता हे। 

भारत की मुख्य नदियाँ

22 . हुगली नदी – इस नदी की लंबाई करीब 260 km हे ये नदी गंगा नदी की सबसे सहायक नदी हे जिनको विश्वास घाती नदी भी कहा जाता हे। इस नदी के किनारे कोलकाता बन्दरगाह स्थिर हे जिनको पूर्व का लंदन भी कहा जाता हे। 

23 . बैगाई नदी –  ये भारत की प्रमुख  नदियों में से एक हे। 

24 . बनास नदी – इस नदी की लंबाई करीब 512 किलोमीटर हे। बनास नदी भारत की एक ऐसी नदी हे जो सम्पूर्ण चक्र राजस्थान में ही समाप्त करती हे। इस नदी का उदगम स्थान अरावती पर्वत श्रेणियों में कुमलगढ़ के पास खमनोर पहाड़ी से निकलती हे। इस नदी पर बीसलपुर , ईसरदा और मातरीकुंडिया बाँध हे।

तो दोस्तों अगर आपको ये आर्टिकल पसंद हे तो आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *