खट्टा मीठा और रसीला फ़ल शहतूत खाने के लाभ

खट्टा मीठा और रसीला फ़ल शहतूत खाने के लाभ

दोस्तों इस आर्टिकल के माध्यम से आज हम बात करने वाले हे एक खट्टे – मीठे और रसीले फ़ल शहतूत के बारे में जिनको अंग्रेजी में Mulberry Fruit कहते हे। जबकि संस्कृत में उसे तुत , मराठी में तुर्ती के नाम से जाना जाता हे। शहतूत का पौधा एक तेज़ गति से बढ़ने वाले पौधा में से एक हे। तो चलो दोस्तों शहतूत के बारे में और भी अधिक जानकारी और उनके सेवन से हमें क्या फायदे होते हे ये भी देख लेते हे। Benefits Of Mulberry In Hindi

शहतूत के बारे में जानकारी – Mulberry In Hindi

1 . शहतूत दिखने में एक मध्यम आकर का पेड़ हे जिनकी ऊंचाई के बारे में बात करे तो ये करीब 10 से लेकर 20 मीटर तक ऊँचा होता हे।

2 . शहतूत फल में पौटेशियम , कैल्शियम , फ़ॉस्फ़रस , विटामिन A , विटामिन K , लोहा , फाइबर और राइबोफ्लेविविन पाए जाते हे जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हे।

3 . ज़्यादातर शहतूत फल का इस्तमाल शर्बत , जैम जैली , पाइन , शराब आदि चीजों बनाने के लिए किया जाता हे। Mulberry In Hindi

4 . कई लोग कच्चे शहतूत खाना पसंद करते हे जबकि कई लोग पके हुए शहतूत खाना पसंद करते हे। शहतूत के दो प्रकार हे बड़ा शहतूत और छोटा शहतूत। 

5 . कच्चे शहतूत का रंग हरे रंग का या आछा सफ़ेद होता हे जबकि पके हुए शहतूत लाल , काले या नीले रंग के होते हे। 

6 . शहतूत का वैज्ञानिक नाम morus Alba हे।

7 . चीन में सबसे पहले शहतूत को उगाया गया था। 

8 . भारत में शहतूत कश्मीर , पंजाब , उत्तराखंड और उत्तरप्रदेश में पाए जाते हे।

9 . रेशम के कीड़े के लिए शहतूत का पेड़ एकमात्र स्त्रोत हे।

शहतूत खाने के फ़ायदे हिन्दी में – Mulberry Benefits In Hindi

1 . शहतूत में पाए जाने वाले विटामिन A की वजह से आँखों की रोशनी बढ़ती हे। 

2 . अगर आपको चोट लगने पर उस घाव पे शहतूत के पत्ते लगाने से आपका घाव जल्दी भर जाता हे। 

3 . शहतूत के पत्तो को पानी में उबालकर फिर उस पानी से कुल्ले या गरारे करने से गले की ख़राश दूर होती हे। Mulberry Benefits In Hindi

4 . शहतूत में पाए जाने वाले फाइबर की वजह से हमारी पाचन शक्ति सही रहती हे।

5 . अगर आपको यूरिन की समस्या हे तो आपके लिए ये फ़ल फायदेमंद साबित होता हे।

6 . गर्मियों के दोरान इस फल के सेवन से लू लगने की संभवना कम होती हे।

7 . शहतूत के सेवन से पानी की कमी दूर होती हे। 

8 . शहतूत के सेवन से पेड़ के कीड़े और पेड़ की जलन दूर होती हे। 

9 . इस फल का ज्यूस या रस पिने से आपका चहेरा स्वच्छ, चमकदार और झुरियों की समस्या दूर होती हे।

10 . शहतूत खाने से एनीमिया की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता हे।

11 . रोजाना इस फ़ल का सेवन करने से लिवर सबंधित बीमारियों के लिए फायदेमंद साबित होता हे ये फल। 

12 . सही मात्रा में शहतूत खाने से त्वचा की नमी बनी रहती हे। 

13 . शहतूत फल में पाए जाने वाले मिनरल्स और विटामिन की वजह से बाल चमकीले और मजबूत होते हे।

14 . इस फल के रस में कलमीशोरा को पीसकर नाभि के निचले भाग पर लेप या मालिश करने से पैशाब में धातु आना बंध हो जाता हे।

15 . पैशाब का रंग पीला होने पर इस फल का रस चीनी के साथ मिलाकर पिने से रंग साफ हो जाता हे।

16 . शहतूत के पत्ते को पीसकर लगाने से दाद और खुजली में आराम मिलता हे।

अगर आपको ये आर्टिकल पसंद हे तो आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *