पपीता की जानकारी , फ़ायदे , नुकशान और किस्मे

तो दोस्तों इस आर्टिकल के माध्यम से आज हम बात करने वाले हे पपीता के बारे में जो एक स्वादिष्ट फल हे यानिकि पपीता जितना स्वादिष्ट फल हे उतना ही वो हमारे शरीर के लिए स्वास्थ्य कारक होता हे यानिकि प्रतिदिन पपीते के सेवन करने से कई बीमारियों से बचा जा सकता हे। कच्चे या पके हुए दोनों तरह के पपीते का इस्तमाल किया जाता हे तो चलो दोस्तों पपीते के बारे में और भी अधिक जानकरी और पपीते के फायदे हम जान लेते हे। Papaya Ke Fayade

पपीता की जानकारी , फ़ायदे , नुकशान और किस्मे

पपीता के बारे में सामान्य जानकारी

1 . तो दोस्तों सबसे पहले हम बात करने वाले हे की पपीता का वैज्ञानिक नाम क्या हे ? तो पपीता का वैज्ञानिक नाम कॅरिका पपाया ( carica papaya ) हे। 

2 . पपीता जितना स्वादिष्ट फल हे उनका ही वो स्वास्थ्यवर्धक फल हे जो केरीकेसी फेमिली का फल हे। 

3 . आप कच्चे और पके हुए दोनों पपीता का इस्तमाल कर करते हे कच्चा पपीता से उपगोय सब्जी बनाने में किया जाता हे और कच्चे पपीते में से दूध जैसा प्रवाही निकलता हे जिसे पपेन तैयार किया जाता हे। 

4 . पपीता कच्चा होने पर वो हरे रंग का होता हे जबकि पकने के बाद पपीता हरे रंग में से पिले या सहेज लाल रंग में परिवर्तित हो जाते हे। 

5 . ज्यादातर पपीता उष्ण समशीतोष्ण जलवायु वाले प्रदेशो में पाए जाते हे। 

6 . पपीते का पेड़ लगाने के बाद करीब एक साल के अंदर ही फल लगने शरू हो जाते हे। 

7 . पपीते के पेड़ में नर और मादा दोनों अलग अलग होते हे जिसमे नर पपीते के पेड़ो पर केवल फूल ही लगते हे यानिकि फल नहीं लगते। 

8 . पपीते का आकार गोलाकार या बेलनाकार भी होता हे। 

9 . पपीते के फल के अंदर काले रंग के गोल मरीच जैसे पपीता के बीज होते हे। 

10 . पपीता के पौधे पर किसी भी भाग पर घा करने से उनमें से दूध जैसा प्रदार्थ निकलता हे जिनको आक्षीर कहा जाता हे। 

11 . पपीते के फल , पत्ते , बीज , जड़ और आक्षीर इन सभी भागो का इस्तमाल औषधि के तौर पर किया जाता हे। 

12 . एक रिचर्स से ये अनुमान लगाया गया हे की 100 ग्राम पपीते में 43 ग्राम कैलोरी होती हे।

13 . पपीता तेजी से पढ़ने वाले पौधे में से एक हे। 

पपीता की जानकारी , फ़ायदे , नुकशान और किस्मे

पपीता खाने के फायदे – papaya khane ke fayade

  • पपीता फल में पाए जाने वाले विटामिन A , वीटामिन B , विटामिन D , कैल्शियम , पोटैशियम , प्रोटीन , केरोटीन और फाइबर जैसे तत्व पाए जाते हे जो हमारे शरीर स्वास्थ्य के लिए बहुत ही उपयोगी साबित होते हे। 

1 . पपीता को खाने से भूख और शक्ति बढ़ती हे। 

2 . मुँह में छाले या घाव की समस्या होने पर पपीता के दूध या आक्षीर को मुँह के छालो या घाव पर लगाने से घाव जल्दी भर जाता हे। 

3 . पपीता के दूध को रुई से लिपेटकर दांत के दर्द पर लगाने से दर्द में आराम मिलता हे। 

4 . पपीते में पाए जाने वाला विटामिन ए और सी जो हमारी आँखों के लिए लाभदायक साबित होते हे। 

5 . पपीता खाने से कोलेस्ट्रॉल के नियंत्रण में रहता हे। 

6 . प्रतिदिन पपीते खाने से हमारी रोग प्रतिकारक क्षमता बढ़ती हे। 

7 . पपीते में पाए जाने वाला पाचक ऐंजाइस्म जो पाचन क्रिया को बहेतर बनाता हे। 

8 . पपीते के सेवन से महिलाओ को पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में आराम और पीरियड्स साईकिल नियमित होता हे। 

9 . कब्ज की परेशानी होने पर पपीते का सेवन करने से कब्ज से छुटकारा पाया जा सकता हे। 

10 . पपीते के सेवन से हृदय सबंधी बीमारियों होने की संभावना कम होती हे। 

11 . गठिया के रोग के लिए पपीता एक फायदेमंद फल हे। 

12 . पपीते में पाए जाने वाले कैरोटिनॉइड , एंटीऑक्सीडेंट और बीटा कैरोटीन जो कैंसर के बचाव करने के लिए सहायक साबित होते हे। 

पपीता के नुकशान – papite ke Nukshan

1 . गर्भवती महिलाओ को पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए क्योकि पपीता गरम तासीर का होने की वजह से गर्भवती महिलाओ को परेशानिया हो सकती हे। 

2 . अधिकतम पपीते का सेवन करने से कॅरोटिनेमिया यानि पेलाग्रा नामक बीमारी हो सकती हे। 

3 . अगर आपको पपीते खाने से सूजन , चक्कर , सिरदर्द या खुजली होती हे तो आप पपीते का सेवन न करे।

पपीते के मुख्य किस्मे 

1 . हनीड्यू ( मधुविंद )

2 . सिलोन 

3 . रांची

ये भी पढ़े। .

आम की जानकारी, फायदे और किस्मे 

चीकू के फायदे 

अगर आपको ये जानकारी पसंद हे तो आप उसे अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *