Sandpiper Bird fun facts

टिटहरी पक्षी – About Sandpiper Bird In Hindi

तो दोस्तों इस आर्टिकल के माध्यम से आज हम बात करने वाले हे टिटहरी पक्षी के बारे में जिनको अंग्रेजी भाषा में Sandpiper Bird कहा जाता हे। दिखने टिटहरी एक मध्यम कद का जलचर पक्षी हे तो चलो दोस्तों टिटहरी पक्षी के बारे में और भी अधिक रौचक और दिलचस्प जानकारी को हम देख लेते हे। Sandpiper Bird In Hindi

टिटहरी पक्षी की सामान्य जानकारी

1 . तो दोस्तों सबसे पहले हम बात करने वाले हे की टिटहरी पक्षी का वैज्ञानिक नाम क्या हे ? तो इस पक्षी का वैज्ञानिक नाम Scolopacidae हे। 

2 . टिटहरी मध्यम कद पक्षी हे जिनकी गर्दन गोल और चोंच लम्बी एवम पतली होती हे। 

3 . इस पक्षी के पंख और पूंछ भूरे रंग के जबकि उनके शरीर का निचला हिस्सा सफ़ेद रंग का होता हे। 

4 . ज़्यादातर टिटहरी पक्षी यूरोप और एशिया में पाए जाते हे जबकि भारत के सभी प्रदेशो में ये पक्षी पाया जाता हे। 

5 . ये एक प्रवासी पक्षी हे यानिकि ये प्रवासी पक्षियों में से एक हे। 

6 . ज़्यादातर ये पक्षी आपको सरोवरों , तालाबों और नदियों के आसपास देखने को मिल जायेंगे। जबकि गावो में आप इस पक्षी को खेतो के आसपास और खुले समतल इलाकों में दिखाई देते हे। 

7 . टिटहरी पक्षी दिन के दौरान सक्रीय होते हे जबकि रात के दौरान ये पक्षी आराम फ़रमाते हे। 

8 . ये पक्षी ज्यादातर अकेले में ही रहना पसंद करते हे। और तो और ये पक्षी अपने जीवन का अधिकतम समय ज़मीन पर ही पसार करता हे यानिकि टिटहरी जमीन पर ही रहना पसंद करती हे। 

9 . इस पक्षी की एक विशेषता ये हे की वो जब भी चलते हे तब उनका सिर और पूंछ ऊपर निचे होता हे जिसे Teetering कहा जाता हे। 

10 . मादा टिटहरी नर की तुलना में लम्बी होती हे। 

Titihari Bird In Hindi – टिटहरी

Sandpiper bird information

11 . अगर हम टिटहरी पक्षी की लम्बाई के बारे में बात करे तो इस पक्षी की लम्बाई 10 इंच के आसपास होती हे जबकि उनका वज़न करीब 40 ग्राम से 50 ग्राम के आसपास होता हे। 

12 . ये पक्षी छोटे – छोटे कीड़े मकोड़े, जीवों और जलीय वनस्पति खाना पसंद करता हे। 

13 . टिटहरी के पैर लंबे और पतले होते हे और वो अपने पैरो की मदद से ज़मीन पर तेज़ गति से दौड़ भी सकते हे। 

14 . नर पक्षी मादा को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए हवा में गोता भी लगाते हे। 

15 . ये पक्षी अपना घोसला ज़मीन पर बनाते हे और उनका प्रजनन समय मई से जुलाई तक  होता हे। 

16 . मादा टिटहरी अपने घोसले में करीब चार से पांच पत्थर रंग के हल्के पिले पर स्लेटी भूरे और बैंगनी धब्बों वाले अंडे देती हे। 

17 . करीब 20 दिनों के बाद अंडो में से बच्चे बहार निकलते हे। नर मादा साथ मिलकर अपने बच्चो का पालन पोषण करते हे।

18 . कोइ भी जानवर या शिकारी पक्षी टिटहरी के घोसलें के पास आते ही ये पक्षी जोर से शोर मचाती हे। 

19 . जब भी कोइ जानवर टिटहरी पक्षी के बच्चे के आसपास आता हे तब माता पिता चूजों को मरने का स्वांग करने का संकेत करते हे। 

20 . इस पक्षी के आधारित एक मान्यता भी प्रचलित हे की अगर इस पक्षी के अंडे ऊँचे स्थान पर होने का मतलब बारिश अधिक होगी और अगर निचे स्थान पर होने पर बारिश बहुत कम होगी। 

21 . अगर हम टिटहरी पक्षी के जीवनकाल के बारे में बात करे तो इस पक्षी का जीवनकाल करीब 10 से 12 साल का होता हे। 

तो दोस्तों अगर आपको टिटहरी पक्षी की जानकारी पसंद हे तो आप इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *