लाजवंती पौधे की जानकारी और फ़ायदे

दोस्तों इस आर्टिकल में हम लाजवंती पौधे के बारे में बात करने वाले हे। इस पौधे को अंग्रेजी में Touch Me Not कहते हे। ये पौधा किसी भी वस्तु या इंसान के संपर्क में आते ही मुरझा जाता हे इसलिए कई लोग उसे शर्मीला पौधा भी कहते हे। जबकि ये पौधा छुई – मुई नाम से भी जाना जाता हे। लाजवंती पौधा अमेरिका का मूल पौधा हे। ये एक बारहमासी पौधा हे। तो चलो दोस्तों इस पौधे के बारे में और भी अधिक जानकारी को देख लेते हे। lajwanti in Hindi

लाजवंती पौधे की फोटो

 लाजवंती पौधे की जानकारी

1 . तो दोस्तों सबसे पहले हम बात करने वाले हे की लाजवंती पौधे का वैज्ञानिक नाम क्या हे ? तो इस पौधे का वैज्ञानिक नाम Mimosa Pudica हे।

2 . लाजवंती पौधे की सबसे खास बात ये की इस पौधे की पंखुडिया इतनी सेंसिटिव होती हे की कोइ भी इंसान या वस्तु द्रारा छूने से वो मुरझा जाते हे। और फिर कूच देर बाद वापस भी खुल जाती हे। 

3 . लाजवंती का पौधा Fabaceac परिवार से सबंध रखता हे।

4 . लाजवंती का पौधा सबसे तेज़ी से बढ़ने वाले पौधों में से एक हे और ज़्यादातर ये पौधा नमी वाली जगह पे पाया जाता हे।

5 . लाजवंती पौधे की एक रौचक बात ये भी हे की वो शाम होने से पहले अपनी पत्तियों को मुरझा लेते हे और सुबह होने से पहले अपनी पत्तियों को खोल भी देते हे।

6 . इस पौधे की पत्तिया गहरे हरे रंग की होती हे।

7 . लाजवंती के पौधे पर बारिश के समय गुलाबी रंग के फूल लगते हे। जो दिखने में सुन्दर और आकर्षित होते हे।

8 . इस पौधे पर जुलाइ से सितम्बर के बिच फूल खिलते हे। 

9 . लाजवंती का पौधा करीब 1 मीटर की उंचाई तक बढ़ता हे।

10 . अगर आप इस पौधे को उगाना चाहते हो तो आप उनको बीज के द्रारा उगा सकते हे। लेकिन इस पौधे को धूप की बहुत आवश्यकता होती हे इसलिए जहा धूप हो वहाँ इस पौधे को लगाए।

11 . इस पौधे के सभी हिस्से यानिकि जड़ , तना , फूल , फल , पत्ते , फल का चूर्ण और बीजो का घरेलु दवाओं बनाने में इस्तमाल किया जाता हे।

12 . लाजवंती पौधे का जीवनकाल करीब 1 साल के आसपास रहता हे।

लाजवंती के फ़ायदे – Benefits Of Lajwanti In Hindi

1 . बवासीर और भगंदर के दर्दी को लाजवंती पौधे के जड़ और उनके पत्ते का एक चम्मच चूर्ण बनाकर फिर उनको दूध के साथ सेवन करने से आराम मिलता हे। 

2 . लाजवंती के पत्तो को पानी के साथ पीसकर फिर उसका लेप वस्ति प्रदेश ( ब्लडर ) पर लगाने से मूत्रातिसार में फ़ायदा होता हे। Lajwanti Benefits In Hindi

3 . घाव भरने के लिए लाजवंती के पत्तो को पीसकर घाव वाली जगह पर लगाने से घाव जल्दी भर जाता हे।

4 . मधुमेह के दर्दी के लिए लाजवंती के पत्तो का रस बहुत ही फ़ायदेमंद साबित होता हे।

5 . अगर आप लाजवंती पौधे के बीज और जड़ का चूर्ण को गुड़ और दूध के साथ सेवन करने से आपका वीर्य बढ़ता हे।

6 . इस पौधे की जड़ को पीसकर या घिसकर शहद के साथ मिलाकर फिर चाटने से आपकी खांसी दूर हो जाती हे।

7 . स्तनों का ढ़ीलापन दूर करने के लिए लाजवंती पौधे की जड़ो और अश्वगंधा की जड़ो को समान मात्रा में पीसकर फिर उसका लेप ढ़ीले स्तनों पर लगाने से या मालिश करने से स्तनों का ढीलापन दूर होता हे।

8 . लाजवंती की पत्तिया का पेस्ट बनाकर त्वचा पर लगाने से या फिर मालिश करने से खुजली में तुरंत आराम मिलता हे। 

ये भी पढ़े। ….

रातरानी की जानकारी

सर्पगंधा की जानकारी 

रसभरी की जानकारी

चीड़ की जानकारी 

अगर आपको ये आर्टिकल पसंद हे तो आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *